Indian Railway main logo Welcome to Indian Railways
View Content in English
National Emblem of India

पी .एल. डब्ल्यू. के बारे में

इंडेंट एंड सप्लाई

विभाग

समाचार और सूचना

प्रदायक सूचना

निविदा सूचना

ज्ञान केंद्र

हमसे संपर्क करें






Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS
संगठन

                                                                                                                                    विद्युत विभाग का संगठन चार्ट                                                                                                       दिनांक 25.01.2022

 

कर्तव्य और जिम्मेदारियॉं

  • प्रमुख मुख्य विद्युत अभियंता:

               प्रमुख मुख्य विद्युत अभियंता विद्युत विभाग के समग्र प्रभारी हैं।

  • मुख्य विद्युत अभियंता / डी एंड क्यू:

मुख्य विद्युत अभियंता / डी एंड क्यू को गुणवत्ता, आईएसओ सेल, सेवा सुधार समूह (एस.आई.जी), लोको ड्राइंग कार्यालय, रसीद निरीक्षण, सी एंड एम लैब, टी.टी.सी,  इंसैंटिव और एन.आर.सी व्यवसाय की जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं। इन कार्यों के लिए उन्हें उप मुख्य गुणवत्ता प्रबंधक, उप मुख्य विद्युत अभियंता/निरीक्षण, उप मुख्य विद्युत अभियंता/डिजाइन और उप मुख्य यांत्रिक अभियंता/डिजाइन द्वारा सहायता प्रदान की जाती है।

  • मुख्य विद्युत सेवा अभियंता:

मुख्य विद्युत सेवा अभियंता को  विद्युत पावर आपूर्ति सेवाएं,  प्‍लांट रखरखाव,  सुरक्षा और  एम एंड पी,  ट्रैक्शन मशीन शॉप और सिविल इंजीनियरिंग की जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं। इन सभी गतिविधियों के लिए उन्हें क्रमशः एस.ई.ई/.एस एंड प्लांट,  उप मुख्‍य यांत्रिक अभियंता /प्‍लांट, उप मुख्‍य यांत्रिक अभियंता /टीएमएस और उप मुख्‍य अभियंता  द्वारा सहायता प्रदान की जाती है।

  • मुख्य विद्युत अभियंता / लोको:

मुख्य विद्युत अभियंता / लोको को लोकोमोटिव और 8W-DETCs और अन्य रोलिंग स्टॉक के आउट-टर्न की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इन्हें उप मुख्‍य यांत्रिक  अभियंता /लोको द्वारा सहायता प्रदान की जाती है।

  • उप. मुख्य गुणवत्ता प्रबंधक:

ये रसीद निरीक्षण, सी एंड एम लैब, डीएमडब्ल्यू उत्पादों के एस.आई.जी सेल गुणवत्ता मुद्दों, वारंटी दायित्वों, कानूनी अनुपालन, आई.एस.ओ सेल, टी.टी.सी, और इंसैंटिव सेल और एन.आर.सी व्यवसाय के लिए जिम्मेदार है।

  • उप. मुख्य विद्युत अभियंता / निरीक्षण:

ये लोको और डी.ई.टी.सी मदों के विकास और प्रोटोटाइप निरीक्षण, EoTT, DPWCS, CVVRS आदि जैसी नई मदों और नए प्रस्तावित गुणवत्ता सेल के माध्यम से गुणवत्ता की निगरानी के लिए जिम्मेदार है।

  • उप. मुख्य विद्युत अभियंता / डिजाइन:

ये लोको,  डी..टी.सी और लोको डिजाईन कार्यालय के विद्युत मदों के डिजाइन समन्वय के लिए जिम्मेदार हैं। विद्युत मदों के तकनीकी मूल्यांकन के संबंध में निविदा प्रकरणों पर कार्यवाही करते है।

  • उप. मुख्य यांत्रिक इंजीनियर/डिजाइन:

 ये लोको,  डी..टी.सी और लोको डिजाइन कार्यालय के यांत्रिक मदों के यांत्रिक मदों के डिजाइन समन्वय के लिए जिम्मेदार है। तकनीकी मूल्यांकन के संबंध में निविदा मामलों को निपटाने के लिए भी जिम्मेदार है।

  • उप. मुख्य यांत्रिक अभियंता / प्‍लांट:

               ये प्‍लांट रखरखाव,  सुरक्षा और एम एंड पी की सभी गतिविधियों के लिए जिम्मेदार है।

  • उप. मुख्य विद्युत अभियंता / इलेक्ट्रिकल सर्विसेज एंड प्लांट

ये कार्यशाला और कॉलोनियों में विद्युत बिजली आपूर्ति सेवाओं के रखरखाव, कार्यशाला के एम एंड पी के रखरखाव, सुरक्षा सेल और नए एम एंड पी की खरीद के लिए जिम्मेदार है।

  • उप. मुख्य यांत्रिक अभियंता / टीएमएस:

              ये ट्रैक्शन मशीन शॉप और कॉइल शॉप की सभी निर्माण गतिविधियों के लिए जिम्मेदार है।

  • उप. मुख्य इंजीनियर:  

                ये सिविल इंजीनियरिंग विभाग से संबंधित सभी गतिविधियों के लिए जिम्मेदार है।

  • उप. मुख्य यांत्रिक अभियंता / लोको:

               ये इलेक्ट्रिकल लोको और 8W-DETCs के निर्माण और लोको असेंबली शॉप्स जैसे लोको असेंबली शॉप (LAS), इलेक्ट्रिकल एंड कमीशनिंग शॉप)  ECS), एयर ब्रेक शॉप (ABS), और लाइट फैब्रिकेशन शॉप (LFS)।में की जाने वाली अन्य सभी गतिविधियों के लिए जिम्मेदार है।

 



Source : PLW आधिकारिक वेबसाइट पर आपका स्वागत है! CMS Team Last Reviewed on: 25-01-2022  

  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.