Indian Railway main logo Welcome to Indian Railways
View Content in English
National Emblem of India

पी .एल. डब्ल्यू. के बारे में

इंडेंट एंड सप्लाई

विभाग

समाचार और सूचना

प्रदायक सूचना

निविदा सूचना

ज्ञान केंद्र

हमसे संपर्क करें






Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS
इलेक्ट्रिकल जनरल सर्विस और दूरसंचार विभाग

संगठन चार्ट

 
प्रमुख मुख्य विद्युत अभियंता बिज़ली विभाग के समग्र प्रभारी हैं।
उतरदायित्व:
          विद्युत सेवा अनुभाग इसके लिए उत्‍तरदायी है::-
  • पी.एस.पी.सी.एल से 66 केवी में बिजली की खरीद। बिजली आपूर्ति का वितरण और उपयोग।
  • बिजली की आपूर्ति की गुणवत्ता में सुधार। विद्युत संपत्ति का संचालन और रखरखाव।
  • एयर कंडीशनिंग सेवाओं का संचालन और रखरखाव। ऊर्जा सरंक्षण।
  • ऊर्जा के गैर-पारंपरिक स्रोतों को बढ़ावा देना। स्टैंडबाय डीजी सेटों का संचालन और रखरखाव।
  • दूरसंचार सुविधाओं का संचालन और रखरखाव। संबंधित कार्यों की योजना और निष्पादन।
 1. बिजली की आपूर्ति:
  • पी.एल.डब्ल्यू. एकल बिंदु आपूर्ति के रूप में पी.एस.पी.सी.एल. से विद्युत ऊर्जा खरीदता है। वर्कशॉप और कॉलोनी के पूरे परिसर के लिए इलेक्ट्रिकल पावर सप्लाई, 66 केवी से पीएसपीसीएल के 220 केवी ग्रिड सबस्टेशन से अब्लोवाल से प्राप्त की जाती है। आपूर्ति 10 किलोमीटर लंबी 66 के.वी. सिंगल सर्किट ओवरहेड लाइन के माध्यम से प्राप्त की जाती है। 66 केवी ओवरहेड लाइन का रखरखाव पी.एस.पी.सी.एल के पास है।
  • 66 केवी में विद्युत आपूर्ति को  मेन रिसीविंग स्टेशन (एमआरएस) पर पी.एल.डब्ल्यू. वर्कशॉप में 6.3 /8  एमवीए और 10 / 12.5 एमवीए क्षमता के दो  ट्रांसफॉर्मरों पर 11 केवी क्षमता में स्‍टेप डाउन किया गया है और आगे विभिन्न लोड केंद्रों को 11 केवी एच.टी. नेटवर्क के माध्यम से कार्यशाला क्षेत्र में सात विद्युत उप स्टेशनों से और कॉलोनी क्षेत्र में तीन विद्युत उप स्टेशनों से वितरित किया गया है। सभी दस विद्युत सब स्टेशन एचटी रिंग मेन भूमिगत केबल सिस्टम के माध्यम से जुड़े हुए हैं।
  • वर्तमान में पी.एल.डब्ल्यू.का कुल स्वीकृत लोड 25566 किलोवाट है और स्वीकृत अनुबंध मांग 5000 केवीए है और आगे 4000 केवीए तक की कटौती शुरू की गई है। पी.एस.पी.सी.एल का बिजली टैरिफ पी.एस.पी.सी.एल. की श्रेणी IV उपभोक्ताओं के लिए लागू सिंगल पार्ट टैरिफ है।
  • पी.एल.डब्ल्यू.  बिजली आपूर्ति का पावर फैक्टर 1.00 (यूनिटी) के स्तर पर बना हुआ है, जो पंजाब के औद्योगिक क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ में से एक है। प्रत्येक विद्युत उप-स्टेशन, पंपिंग इंस्टॉलेशन, स्ट्रीट लाइट फीडर खंभे को बिजली के कारक को बेहतर बनाने के लिए एलटी पावर कैपेसिटर बैंकों के साथ प्रदान किया गया है।
  • एम.आर.एस पर नियंत्रण कक्ष सहित 66/11 केवी स्विच यार्ड का रखरखाव पी.एल.डब्ल्यू. द्वारा किया जाता है और उपकरणों का समय-समय पर परीक्षण सीनियर एक्सईएन / सुरक्षा / पी.एस.पी.सी.एल/ पटियाला के माध्यम से छमाही आधार पर किया जाता है।
2. अतिरिक्त बिजली की आपूर्ति:
  • 160 केवीए डीजी सेट - 4 नं.
  • 125 केवीए डीजी सेट - 1 नं.
  • 15 केवीए डीजी सेट -  1 नं.
 3. पानी की आपूर्ति:
  • सबमर्सिबल पंप- 13 नं.
  • ऑटोमेशन के लिए डायल टाइप इलेक्ट्रॉनिक टाइमर उपलब्ध कराए गए हैं।
4. एयर कंडीशनिंग:
            
          स्थान
                                                 प्‍लांट की क्षमता
एलएमएस एसी प्लांट
3x60 TR - 4Nos.  (Closed)
कॉइल शाप (टीएमएस)
16.5 x4 TR (पैकेज यूनिट)
  इलेक्ट्रॉनिक लैब
स्प्लिट ए.सी. की सुविधा दी जा रही है
एचएमएस शॉप (सीएनसी क्षेत्र)
4x70 टीआर, 1x60 टीआर और 1 x 40 टीआर (बंद)
टी.टी.सी.
2x7.5 टीआर
सूचना प्रौद्योगिकी केन्‍द्र
टाइप स्प्लिट ए.सी.  -3 न. और स्प्लिट ए.सी. - 11न.
 सीएडी सेंटर
5x5.5 टीआर यूनिट डक्‍टेबल स्प्लिट ए.सी. & 16nos.x 2 TR Split ACs.
ऑयल चिल्‍ल्‍र
86 नं.
पैनल ए.सी. 
98 नं.
विंडो ए.सी. 
357 नं.
स्प्लिट ए.सी.
172 नं.
वाटर कूलर
49 नं.
फ्रिज
47 नं.
                                                    
5. हरित पहल
  • 2.15 MW रूफ टॉप सोलर पावर प्लांट पी.एल.डब्ल्यू.  कॉम्प्लेक्स में स्थापित किए गए हैं।
  • प्लांट से कॉम्प्लेक्स की ऊर्जा की छठी मांग पूरी की जा रही है।
6. दूरसंचार:
29.02.2012 से पी.एल.डब्ल्यू.  में 1500 लाइनों का एक डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक (IP आधारित EPABX एक्सचेंज) काम कर रहा है। जो रेलवे की अन्य इकाइयों और कार्यालयों के साथ-साथ आंतरिक संचार की आवश्यकताओं को पूरा करता है। रेलवे ट्रंक लाइनें एनजीएन / ओ.एफ.सी प्रणाली के माध्यम से नई दिल्ली से जुड़ी हुई हैं
उपरोक्त के अलावा, निम्नलिखित अन्य दूरसंचार सुविधाएं संचालित की जा रही हैं: -
  • 36 बीएसएनएल टेलीफोन, 2 पीआरआई सी.के.टी.।
  • रेल टेल के 1GbPS और 100MbPS लीज लाइन और बी.एस.एन.एल. से 300MbPS कार्यरत है जो सभी पर्यवेक्षकों और अधिकारियों को इंटरनेट सुविधा प्रदान करता है।
  • इस एक्सचेंज में 90 इंटरकॉम सेवाएं भी प्रदान की जाती हैं।
7. तिलक ब्रिज, नई दिल्ली में डीएमडब्ल्यू कैंप कार्यालय:
पी.एल.डब्ल्यू. कैंप कार्यालय, तिलक ब्रिज, नई दिल्ली में उपलब्ध कराए गए सभी विद्युत और अन्य एयर कंडीशनिंग उपकरणों को विद्युत विभाग द्वारा अनुरक्षण किया जा रहा है। कैंप कार्यालय के लिए आपातकालीन आपूर्ति हेतु 15 केवीए का एक छोटा डीजी सेट भी प्रदान किया जाता है।
8.  ऊर्जा कार्यकुशलता सूचकांक
पी.एल.डब्ल्यू. कॉम्प्लेक्स के कारख़ाना में वर्षवार विद्युत की खपत:
वर्ष
यूनिट की सं. कारख़ाना में खपत  (केडब्‍ल्‍यूएच)
विद्युत खपत की लागत ( रू)
उत्‍पादन आउटटर्न लाख रू में
उत्पादन का प्रति लाख रू विद्युत खपत की लागत (उर्जा सूचकांक )
2019-20
8619307 63856161 226276 282.20
2020-21
5054414 39239281 173519 226.13
2021-22
5049381 44722779 224888 198.86
 
                         पुरस्कार और उपलब्धियां
  • पी.एल.डब्ल्यू. ने नवम्‍बर, 2018 में पंजाब राज्य ऊर्जा संरक्षण एजेंसी (PEDA) द्वारा आयोजित पंजाब राज्य ऊर्जा संरक्षण प्रतियोगिता में भाग लिया और पंजाब राज्य में बड़े उद्योगों की उप श्रेणी में विनिर्माण उद्यमों की श्रेणी के तहत सर्वश्रेष्ठ ऊर्जा संरक्षण के प्रयासों के लिए द्वितीय स्‍थान प्राप्‍त किया और पुरस्कार के रूप में एक शील्‍ड, मेरिट का प्रमाण पत्र और रु 30,000/- का नकद पुरस्कार प्राप्‍त किया ।
  • पी.एल.डब्ल्यू. ने 6 वें स्मार्ट सिटीज इंडिया पुरस्‍कार 2019 में भाग लिया, जो नई दिल्ली में भारत के प्रदर्शनी समूह द्वारा आयोजित किया गया था। "स्मार्ट ऊर्जा पुरस्कार" की श्रेणी में लगभग 3000 आवेदन प्राप्‍त हुए इनमें से जूरी द्वारा 238 प्रतिभागियों को अंतिम रूप से चुना गया । पी.एल.डब्ल्यू. / पटियाला को शीर्ष तीन में चयन मिला और  "ग्रीन उर्जा पुरस्‍कार " की श्रेणी में पहला स्थान प्राप्‍त किया।
  • नवंबर 2019 में पी.एल.डब्ल्यू. ने पंजाब ऊर्जा विकास एजेंसी (PEDA) द्वारा आयोजित पंजाब राज्य ऊर्जा संरक्षण प्रतियोगिता में भाग लिया और पंजाब राज्य में बड़े उद्योगों की उप श्रेणी में विनिर्माण उद्यमों की श्रेणी के तहत सर्वश्रेष्ठ ऊर्जा संरक्षण के प्रयासों के लिए द्वितीय स्‍थान प्राप्‍त किया और पुरस्कार के रूप में एक शील्‍ड, मेरिट का प्रमाण पत्र और रु 30000/- का नकद पुरस्कार प्राप्‍त किया ।
  • पी.एल.डब्ल्यू. ने CII हैदराबाद जो कि उर्जा कार्यकुशल यूनिट है के द्वारा आयोजित ऊर्जा प्रबंधन-2019  में उत्‍कृष्‍टता के लिए 20वें राष्ट्रीय पुरस्कार में भाग लिया ।
  • पी.एल.डब्ल्यू. ने ऊर्जा मंत्रालय नई दिल्ली के अधीन ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफिशिएंसी (BEE) द्वारा आयोजित वर्ष 2018-19 के लिए राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार में भाग लिया और अन्य रेलवे उत्पादन इकाइयों के बीच "प्रथम" स्थान हासिल किया। माननीय राज्य मंत्री (आईसी), विद्युत मंत्रालय द्वारा 14.12.2019 को पी.एल.डब्ल्यू. को शील्ड और प्रमाण पत्र दिया गया                
  • पिछले लगातार दो वर्षों से पी.एल.डब्ल्यू. पटियाला को CII  हैदराबाद द्वारा अगस्त 2020 में ऑटोमोबाइल और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में "एनर्जी एफिशिएंट यूनिट" घोषित किया।
  • पी.एल.डब्ल्यू. ने "गोल्डन पीकॉक एनर्जी एफिशिएंसी पुरस्‍कार 2020" के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया में भाग लिया, जिसका आयोजन गोल्डन पीकॉक पुरस्‍कार सचिवालय, इंस्टीट्यूट ऑफ डायरेक्टर, नई दिल्ली द्वारा अगस्त 2020 के महीने में किया गया था। पी.एल.डब्ल्यू./ पटियाला ने सर्वोच्च अंक प्राप्त किए और वर्ष 2020 के लिए सरकारी (रेलवे) क्षेत्र के बीच "ऊर्जा दक्षता के लिए गोल्डन पीकॉक पुरस्‍कार का विजेता" घोषित किया।। पी.एल.डब्ल्यू./ पटियाला को एक शील्ड और मेरिट का प्रमाण पत्र दिया गया है 
  • मई 2021 में पी.एल.डब्ल्यू. ने पंजाब ऊर्जा विकास एजेंसी (PEDA) द्वारा आयोजित पंजाब राज्य ऊर्जा संरक्षण प्रतियोगिता में भाग लिया और पंजाब राज्य में व्यावसायिक भवन  की उप श्रेणी में पी.एल.डब्ल्यू. हॉस्पिटल को सर्वश्रेष्ठ ऊर्जा संरक्षण के प्रयासों के लिए द्वितीय स्‍थान प्राप्‍त किया और पुरस्कार के रूप में एक शील्‍ड, मेरिट का प्रमाण पत्र और रु 30000/- का नकद पुरस्कार प्राप्‍त किया ।
  • पिछले लगातार तीन वर्षों से पी.एल.डब्ल्यू. पटियाला को CII  हैदराबाद द्वारा अगस्त 2021 में ऑटोमोबाइल और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में "एनर्जी एफिशिएंट यूनिट" घोषित किया।

 



Source : PLW आधिकारिक वेबसाइट पर आपका स्वागत है! CMS Team Last Reviewed on: 06-07-2022  

  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.